क्या यह संभव है की २०१९ का आम चुनाव सर पर हो  और राम मंदिर की बात न हो ? ज़ाहिर हैं अयोध्या में राम">

newstimesindia.com [Edited by: Nishi Dubey]

Last updated: 24-11-2018 23:34:10 PM

  • क्या यह संभव है की २०१९ का आम चुनाव सर पर हो  और राम मंदिर की बात न हो ? ज़ाहिर हैं अयोध्या में राम मंदिर को लेकर माहौल का एक  बार फिर से गरम होना स्वाभाविक है .बाला साहेब ठाकरे एक पत्रकार थे और उनकी सियासत की समझ इतना ज़ोरदार था की जबतक वह जीवित रहे महाराष्ट्र पॉलिटिक्स में किसी को दखल देने नहीं दिया - मुंबई में कोई भी डॉन हो सलामी देने के लिए वह ठाकरे साहेब के बंगले में ज़रूर नज़र आते थे - आज उद्धव ठाकरे उसी समझ के साथ अयोध्या पहुचे हैं और हजारों शिवसैनिकों का जत्था रेल और हवाई मार्ग से अयोध्या पहुंच चुके  है. सभी की जुबां पर सिर्फ एक ही नारा है राम और भारत दोनों ही हमारा हैं  'अबकी बार राम मंदिर का निर्माण होकर रहेगा'. रविवार को अयोध्या में होने वाली धर्म संसद को लेकर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. इस बीच उद्धव ठाकरे भी अपने परिवार के साथ अयोध्या पहुंचे और फिर शाम को सरयू तट पर आरती की. शिवसेना का कहना है कि राम मंदिर का काम जल्द से जल्द शुरू हो जाए, इसके लिए उद्धव ठाकरे ने अपने परिवार के साथ सरयू नदी के किनारे महाआरती की. इसी दौरान पुरे महाराष्ट्र में हर जगह शिवसैनिकों ने भी महाआरती की. इस पूरी घटना को सिर्फ एक फोटो ओपेर्चुनिटी  नहीं समझा जाना चाहिए बल्कि  एक कर्टेन  रेज़र के रूप में देखा जाये -

    मोदी के लिए ब्रह्मास्त्र साबित होगा राम मंदिर - शांति कायम रहेगा -इसलिए स्टेचू ऑफ़ यूनिटी पहले और फिर राम मंदिर - अयोध्या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पहले साधु-संतों से मुलाकात की और अपने परिवार के साथ लक्ष्मण किला का दौरा किया. इस बीच शिवसैनिकों और साधु संतों को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा, 'मुझे राम मंदिर निर्माण का श्रेय नहीं चाहिए. मुझे राम मंदिर निर्माण की तारीख चाहिए. हम सब मिलकर राम मंदिर का निर्माण करेंगे. सब साथ आएंगे, तो राम मंदिर जल्द बनेगा.'उद्धव का हमला- 4 साल से कुंभकर्ण की नींद सो रही बीजेपी इस दौरान उद्धव ठाकरे ने बीजेपी और मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला.

    उद्धव ठाकरे ने कहा, 'मैं आज यहां सिर्फ आशीर्वाद लेने आया हूं, लेकिन अब आता रहूंगा. मैं जब यहां आ रहा था, तो लोग मुझसे पूछ रहे थे कि क्या राजनीति करने पहुंच रहे हो. मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं. मैं आज कुंभकर्ण बनी बीजेपी को जगाने आया हूं. कुंभकर्ण तो छह महीने सोता था, लेकिन बीजेपी चार साल से सो रही है. मैं चाहता हूं कि सब मिलकर मंदिर बनाए.' राम मंदिर पर अध्यादेश लाए बीजेपी, शिवसेना का पूरा समर्थनः उद्धव उद्धव ने राम मंदिर के निर्माण का श्रेय लेने के आरोपों को खारिज करते हुए कहा, 'अगर बीजेपी को श्रेय लेना है, तो वो ही ले ले. मैं संत लोगों के सामने कहता हूं कि मैं सिर्फ भक्त बनकर आऊंगा. मुझे राम मंदिर निर्माण की तारीख चाहिए. तब अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार थी, तो थोड़ी मुश्किल थी, लेकिन आज बीजेपी अध्यादेश लाती है, तो हमारी पार्टी पूरा समर्थन करेगी.' उद्धव ठाकरे ने कहा, 'पीएम मोदी ने जैसे नोटबंदी का निर्णय लिया था, उसी प्रकार राम मंदिर निर्माण का निर्णय भी लिया जाना चाहिए. मंदिर बनाने के लिए हिम्मत चाहिए. सीना कितना भी चौड़ा क्यों न हो, सीने में ताकदवर दिल होना जरूरी है. कई महीने और कई साल बीत गए, पर राम मंदिर का मुद्दा वैसे का वैसा ही है.'

    शिवसेना चीफ बोले- अदालत में नहीं मापी जा सकती आस्था ठाकरे ने बीजेपी से कहा, 'आस्था अदालत में मापी नहीं जा सकती है. अदालत में कुछ भी फैसला होने से पहले आप अध्यादेश लाइए. देश के सभी हिन्दू आपके साथ कंधे से कंधा मिलकर चलेंगे. अटल ने कहा था अब हिन्दू मार नहीं खाएगा, लेकिन आज मैं कहता हूं कि अब राम मंदिर पर हिंदू चुप नहीं रहेगा. राम मंदिर बनने के बाद मैं राम भक्त की तरह दर्शन करने आऊंगा.' उद्धव ने मोदी सरकार से पूछा, 'राम मंदिर के लिए और कितने साल इन्तजार करेंगे? हम जो वादा करते हैं, वो पूरा करते हैं. हजारों शिवसैनिक अयोध्या आए हैं. यहां मुझको साधु-संतों से आशीर्वाद प्राप्त हुआ है.' संजय राउत न्यूज़ बाइट देने के लिये मशहूर हैं और  इसलिए एजेंसी से सिर्फ कैमरामैन अक्सर उनके घर पहुच जाते हैं और हैडलाइन झट तैयार हो जाता हैं - हम कुछ भी हों - शिव भक्त या राम भक्त आखिर देश सेवा ही तो मकसद  है - धर्म  कार्य में भी राजनीती देखना क्या यह उचीत लगता हैं शिव सेनिक ने एक पत्रकार से किया सवाल और बेचारा रिपोर्टर लाजवाब हो गया - उसके लिए चाय मंगाई गई पर वह ठंडा हो गया -पत्रकार बिना पिए चाय चला गया   

  • मुस्लिम गौ रक्षा संघ एक क्रन्तिकारी कदम :रामदास अठ... और भी...
  • रामदास पर हमला :दलितों में भारी आक्रोश :Z सिक्यूरि... और भी...
  • उद्धव ठाकरे एंड पार्टी ने मोदी सरकार को ललकारा :कह... और भी...
  • सुप्रीम कोर्ट परिसर में दाखिल होंगे मोदी :आतंकवाद ... और भी...
  • बिजनौर: स्वच्छता अभियान कर लोगों को जागरूक करने की... और भी...
ad
  • मेष

    सामाजिक प्रसंगों में सगे-संबंधियों और मित्रों के साथ आपका समय आनंदपूर्वक बीतेगा। मित्रों के पीछे धनखर्च होगा और उनके द्वारा लाभ भी होगा।

    मिथुन

    आज आपका भाग्य ही आपको सफलता दिलाएगा। आज सब कुछ आपकी इच्छा के अनुसार ही होगा। आपको लगेगा कि ये सब आपकी मेहनत से ना हो कर आपके सौभाग्य की वजह से हो रहा है। इस समय का पूरा लाभ उठाएं।

    कर्क

    आज किसी नए व्यक्ति से मिलने पर जिंदगी खुशियों से भर जाएगी। जिसके मिलने की आपने कल्पना भी नहीं की थी वही यकायक आपकी जिंदगी में आ जायेगा। व्यवसाय के लिए आज का दिन तरक्की वाला है।

    सिंह

    सांसारिक विषयों के बारे में उदासीन रहेंगे। आज मान हानि के योग बन रहे हैं। बेहतर होगा कि किसी भी तनावपूर्ण स्थिति में सयंम रखें और सोच-समझकर बोलें।

    कन्या

    प्रेम में मजबूती आएगी, रुका हुआ काम बनेगा, दौड़भाग बढ़ेगी

    तुला

    संतान की प्रगति होगी। प्रिय व्यक्ति के साथ मुलाकात रोमांचक रहेगी। तन-मन से ताजगी और स्फूर्ति का अनुभव करेंगे।

    वृश्चिक

    अनावश्यक दौड़भाग बढ़ेगा, नौकरी में तनाव हो सकता है, हनुमान चालीसा का पाठ करें

    धनु

    नए कार्य की शुरुआत के लिए शुभ समय है। मित्रों और सगे- संबंधियों के आगमन से घर में प्रसन्नता रहेगी। हाथ में लिए हुए कार्य सफलतापूर्वक पूरे होंगे।

    मकर

    संतान सुख मिलेगा, परिवार में खुशि‍यां आएंगी, उपहार मान सम्मान मिलेगा

    कुंभ

    गणेशजी के आशीर्वाद से शारीरिक-मानसिक रूप से आपका दिन प्रफुल्लित रहेगा। सगे- संबंधियों तथा मित्रों और पारिवारिक सदस्यों के साथ घर में उत्सव का वातावरण रहेगा। सुरुचिपूर्ण और मिष्टान्न का आनंद लेंगे। घूमने-फिरने और पर्यटन का कार्यक्रम आयोजित होगा

    मीन

    यह समय प्रतियोगी परीक्षा में भाग लेने के लिए अच्छा है। आपको सफलता जरूर मिलेगी। अपना आत्मविश्वास बनाए रखें व इस परीक्षा में पूरे आत्म-विश्वास के साथ भाग लें।नवीन कार्य करते हुए आप अवसरों का लाभ लेते हुए लंबा प्रयास कर सकते हैं। आप किसी बुरे सपने के कारण दिन भर परेशान रहेंगे।

  • *मुन्ना: अगर मां के चरणों में 'जन्नत' होती है तो

    नानी के चरणों में क्या होती है?

    सर्किट: सिंपल है भाई, नानी के चरणों में

    'जन्नत-2' होती है.

    सर्किट: भाई अब मोहल्ले के सारे लड़के इसको लाइन मारेंगे

    मुन्नाभाई: तू फिक्र मत कर, इसका नाम 'दीदी' रखेंगे

    *मुन्ना: ये चांद पर पहला कदम किसने रखा?

    सर्किट: नील आर्मस्ट्रॉन्ग ने

    मुन्ना: तो दूसरा कदम कसने रखा ?

    सर्किट:  क्या भाई!

    दूसरा भी तो उसी ने रखा होगा न

    वो लंगड़ा थोड़ी न था!

    * प्रिंसिपल: अगर कोई लड़का लड़कियों के हॉस्टल में गया तो पहली बार 100 रुपये, दूसरी बार 200 रुपये और तीसरी बार 500 रुपये फाइन लगेगा

    मुन्नाभाई: मंथली पास का कितना लगेगा मामू?

    * सर्किट: भाई, बापू ने बोला था कि कभी झूठ नहीं बोलने मांगता है। अपुन आज से कभी झूठ नहीं बोलेगा

    मुन्नाभाई: ऐ सर्किट, वो सुनीता का बाप आया है, तेरे को ढूंढ़ रहा है

    सर्किट: भाई उसको बोलो अपुन गांव गया है, खेती करने को

    मुन्नाभाई: पर सर्किट, अभी तो तू बोला कभी झूठ नहीं बोलेगा

    सर्किट: भाई, अपुन झूठ नहीं बोलेगा पर तुम तो बोल सकता है ना!