newstimesindia.com [Edited by: Mahi Jhawar]

Last updated: 04-06-2018 18:41:00 PM

  • महिलाओं के यौन शोषण से जुड़ी घटनाओं पर कार्रवाई करने वाली महिला और बाल विकास मंत्रालय(Ministry of Women and Child Development) से एक बड़ी भूल हो गयी. दरअसल, पिछले महीने केंद्रीय मंत्री(Union Cabinet Minister for Women & Child Development) मेनका गांधी और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री(Civil aviation minister) सुरेश प्रभु को एक पीड़िता ने चिठ्ठी लिख कर अपना दुःख जाहिर किया था. बाद में मेनका गांधी से मुलाकात के बाद महिला और बाल विकास मंत्रालय(Ministry of Women and Child Development) ने जो प्रेस नोट जारी किया था उसमें उस पीड़ित महिला की पहचान बता दी.

    जानकारी के अनुसार यौन शोषण के केस में पीड़िता की पहचान जाहिर करना कानूनन जुर्म है केवल खास परिस्थितियों में ऐसा किया जा सकता है. लेकिन यहां तो मामला गंभीर है, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (Ministry of Women and Child Development) ने ही सीधे इसका उल्लंघन करते हुए प्रेस नोट जारी कर दिया.

    पीड़ित महिला एक एयरहोस्टेस है. पीड़िता का आरोप है कि कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने छह साल तक उसका यौन उत्पीड़न किया. पीडिता ने केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी से मुलाकात में अपनी व्यथा जताई उन्होंने बताया पिछले साल उसकी शिकायत पर एक internal complaint committee बैठाई गई थी. महिला के मुताबिक ये कमेटी उसके ऊपर मामले को दबाए रखने के लिए दबाव डाल रही थी. और साथ ही साथ उन्होंने बताया कि जब से उन्होंने शिकायत की है तब से उन्हें कंपनी में आंतरिक तौर पर तरह-तरह से उत्पीड़ित किया जा रहा है.

    मेनका गांधी से मिलने के बाद महिला ने मीडिया से बात करने से साफ़ मना कर दिया था. साथ ही यह अनुरोध भी किया था कि उसकी फोटो ना खींची जाए. वहीं मंत्रालय ने दोपहर को 12.42 बजे एक प्रेस नोट जारी किया जिसमे उस पीड़ित महिला का नाम साफ-साफ लिखा हुआ था.

    आपको बता दे, मेनका गांधी ने यह मामला नागरिक उड्डयन मंत्री(Civil aviation minister) के समक्ष उठाया है. उन्होंने उस internal complaint committee के प्रमुख से भी बात की और उन्हें इसी जून तक जांच पूरी करने के लिए कहा.

  • फ्रेंड्स और फैमिली के साथ सैफ अली खान ने मनाया बर्... और भी...
  • मॉरीशस में होने वाले 'हिंदी सम्मेलन' का ... और भी...
  • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस का मास्टरमाइंड ब्रजेश आख... और भी...
  • रेस्लिंग रिंग में सपना-राखी का डांस मुकाबला, विडिय... और भी...
  • मैनपुरी: चंद्रशेखर आजाद के भतीजे का स्वतंत्रता दिव... और भी...
ad
  • मेष

    सामाजिक प्रसंगों में सगे-संबंधियों और मित्रों के साथ आपका समय आनंदपूर्वक बीतेगा। मित्रों के पीछे धनखर्च होगा और उनके द्वारा लाभ भी होगा।

    मिथुन

    आज आपका भाग्य ही आपको सफलता दिलाएगा। आज सब कुछ आपकी इच्छा के अनुसार ही होगा। आपको लगेगा कि ये सब आपकी मेहनत से ना हो कर आपके सौभाग्य की वजह से हो रहा है। इस समय का पूरा लाभ उठाएं।

    कर्क

    आज किसी नए व्यक्ति से मिलने पर जिंदगी खुशियों से भर जाएगी। जिसके मिलने की आपने कल्पना भी नहीं की थी वही यकायक आपकी जिंदगी में आ जायेगा। व्यवसाय के लिए आज का दिन तरक्की वाला है।

    सिंह

    सांसारिक विषयों के बारे में उदासीन रहेंगे। आज मान हानि के योग बन रहे हैं। बेहतर होगा कि किसी भी तनावपूर्ण स्थिति में सयंम रखें और सोच-समझकर बोलें।

    कन्या

    प्रेम में मजबूती आएगी, रुका हुआ काम बनेगा, दौड़भाग बढ़ेगी

    तुला

    संतान की प्रगति होगी। प्रिय व्यक्ति के साथ मुलाकात रोमांचक रहेगी। तन-मन से ताजगी और स्फूर्ति का अनुभव करेंगे।

    वृश्चिक

    अनावश्यक दौड़भाग बढ़ेगा, नौकरी में तनाव हो सकता है, हनुमान चालीसा का पाठ करें

    धनु

    नए कार्य की शुरुआत के लिए शुभ समय है। मित्रों और सगे- संबंधियों के आगमन से घर में प्रसन्नता रहेगी। हाथ में लिए हुए कार्य सफलतापूर्वक पूरे होंगे।

    मकर

    संतान सुख मिलेगा, परिवार में खुशि‍यां आएंगी, उपहार मान सम्मान मिलेगा

    कुंभ

    गणेशजी के आशीर्वाद से शारीरिक-मानसिक रूप से आपका दिन प्रफुल्लित रहेगा। सगे- संबंधियों तथा मित्रों और पारिवारिक सदस्यों के साथ घर में उत्सव का वातावरण रहेगा। सुरुचिपूर्ण और मिष्टान्न का आनंद लेंगे। घूमने-फिरने और पर्यटन का कार्यक्रम आयोजित होगा

    मीन

    यह समय प्रतियोगी परीक्षा में भाग लेने के लिए अच्छा है। आपको सफलता जरूर मिलेगी। अपना आत्मविश्वास बनाए रखें व इस परीक्षा में पूरे आत्म-विश्वास के साथ भाग लें।नवीन कार्य करते हुए आप अवसरों का लाभ लेते हुए लंबा प्रयास कर सकते हैं। आप किसी बुरे सपने के कारण दिन भर परेशान रहेंगे।

  • *मुन्ना: अगर मां के चरणों में 'जन्नत' होती है तो

    नानी के चरणों में क्या होती है?

    सर्किट: सिंपल है भाई, नानी के चरणों में

    'जन्नत-2' होती है.

    सर्किट: भाई अब मोहल्ले के सारे लड़के इसको लाइन मारेंगे

    मुन्नाभाई: तू फिक्र मत कर, इसका नाम 'दीदी' रखेंगे

    *मुन्ना: ये चांद पर पहला कदम किसने रखा?

    सर्किट: नील आर्मस्ट्रॉन्ग ने

    मुन्ना: तो दूसरा कदम कसने रखा ?

    सर्किट:  क्या भाई!

    दूसरा भी तो उसी ने रखा होगा न

    वो लंगड़ा थोड़ी न था!

    * प्रिंसिपल: अगर कोई लड़का लड़कियों के हॉस्टल में गया तो पहली बार 100 रुपये, दूसरी बार 200 रुपये और तीसरी बार 500 रुपये फाइन लगेगा

    मुन्नाभाई: मंथली पास का कितना लगेगा मामू?

    * सर्किट: भाई, बापू ने बोला था कि कभी झूठ नहीं बोलने मांगता है। अपुन आज से कभी झूठ नहीं बोलेगा

    मुन्नाभाई: ऐ सर्किट, वो सुनीता का बाप आया है, तेरे को ढूंढ़ रहा है

    सर्किट: भाई उसको बोलो अपुन गांव गया है, खेती करने को

    मुन्नाभाई: पर सर्किट, अभी तो तू बोला कभी झूठ नहीं बोलेगा

    सर्किट: भाई, अपुन झूठ नहीं बोलेगा पर तुम तो बोल सकता है ना!