newstimesindia.com [Edited by: Nishi Dubey]

Last updated: 11-10-2018 12:53:46 PM

  • नवरात्रि के दिनों में मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा की जाती है. मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा करने से हमें उनका आशीर्वाद मिलता है.हमारी जितनी भी परेशानियाँ होती है हम मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा अर्चना करने अपनी परेशानियों के लिए माता रानी से हल मांगते है.साथ ही मां दुर्गा के 9 रूप अलग अलग होते है उनके अस्त्र -शस्त्र भी अलग अलग होते है.

    जी हां आज नवरात्री का दूसरा दिन है और आज के दिन हम मां ब्रह्मचारिणी की पूजा करते है.उनकी पूजा करके उनका आशीर्वाद मांगते है. साथ ही कहा जाता है कि भगवान शिव को प्राप्त करने लिए मां पार्वती ने पूरी सिधत से तपस्या की थी और इस कठिन तपस्या के कारण मां के रूप को तपश्चारिणी यानी ब्रह्मचारिणी के नाम जाना जाता है.

    बता दें कि नवरात्र के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की आराधना विद्यार्थ‍ियों को जरूर करनी चाहिए. इस दिन पीले या सफेद वस्त्र पहनकर पूजा करनी चाहिए.आज के दिन हम अगर मां ब्रह्मचारिणी की पूजा करेंगे तो हमें अपने जीवन में सफलता हासिल होगी और अपने जीवन में आगे बड़ने की शक्ति मिलेगी.

    वहीँ दूसरी और इन्हें नवदुर्गा में दूसरा स्वरुप मां ब्रह्मचारिणी का है इनको ज्ञान, तपस्या और वैराग्य की देवी कहा जाता है. छात्रों और तपस्वियों के लिए इनकी पूजा बहुत ही शुभ है, जिनका चन्द्रमा कमजोर हो तो उनके लिए मां ब्रह्मचारिणी की उपासना करना शुभ होगा.

  • मुस्लिम गौ रक्षा संघ एक क्रन्तिकारी कदम :रामदास अठ... और भी...
  • रामदास पर हमला :दलितों में भारी आक्रोश :Z सिक्यूरि... और भी...
  • उद्धव ठाकरे एंड पार्टी ने मोदी सरकार को ललकारा :कह... और भी...
  • सुप्रीम कोर्ट परिसर में दाखिल होंगे मोदी :आतंकवाद ... और भी...
  • बिजनौर: स्वच्छता अभियान कर लोगों को जागरूक करने की... और भी...
ad
  • मेष

    सामाजिक प्रसंगों में सगे-संबंधियों और मित्रों के साथ आपका समय आनंदपूर्वक बीतेगा। मित्रों के पीछे धनखर्च होगा और उनके द्वारा लाभ भी होगा।

    मिथुन

    आज आपका भाग्य ही आपको सफलता दिलाएगा। आज सब कुछ आपकी इच्छा के अनुसार ही होगा। आपको लगेगा कि ये सब आपकी मेहनत से ना हो कर आपके सौभाग्य की वजह से हो रहा है। इस समय का पूरा लाभ उठाएं।

    कर्क

    आज किसी नए व्यक्ति से मिलने पर जिंदगी खुशियों से भर जाएगी। जिसके मिलने की आपने कल्पना भी नहीं की थी वही यकायक आपकी जिंदगी में आ जायेगा। व्यवसाय के लिए आज का दिन तरक्की वाला है।

    सिंह

    सांसारिक विषयों के बारे में उदासीन रहेंगे। आज मान हानि के योग बन रहे हैं। बेहतर होगा कि किसी भी तनावपूर्ण स्थिति में सयंम रखें और सोच-समझकर बोलें।

    कन्या

    प्रेम में मजबूती आएगी, रुका हुआ काम बनेगा, दौड़भाग बढ़ेगी

    तुला

    संतान की प्रगति होगी। प्रिय व्यक्ति के साथ मुलाकात रोमांचक रहेगी। तन-मन से ताजगी और स्फूर्ति का अनुभव करेंगे।

    वृश्चिक

    अनावश्यक दौड़भाग बढ़ेगा, नौकरी में तनाव हो सकता है, हनुमान चालीसा का पाठ करें

    धनु

    नए कार्य की शुरुआत के लिए शुभ समय है। मित्रों और सगे- संबंधियों के आगमन से घर में प्रसन्नता रहेगी। हाथ में लिए हुए कार्य सफलतापूर्वक पूरे होंगे।

    मकर

    संतान सुख मिलेगा, परिवार में खुशि‍यां आएंगी, उपहार मान सम्मान मिलेगा

    कुंभ

    गणेशजी के आशीर्वाद से शारीरिक-मानसिक रूप से आपका दिन प्रफुल्लित रहेगा। सगे- संबंधियों तथा मित्रों और पारिवारिक सदस्यों के साथ घर में उत्सव का वातावरण रहेगा। सुरुचिपूर्ण और मिष्टान्न का आनंद लेंगे। घूमने-फिरने और पर्यटन का कार्यक्रम आयोजित होगा

    मीन

    यह समय प्रतियोगी परीक्षा में भाग लेने के लिए अच्छा है। आपको सफलता जरूर मिलेगी। अपना आत्मविश्वास बनाए रखें व इस परीक्षा में पूरे आत्म-विश्वास के साथ भाग लें।नवीन कार्य करते हुए आप अवसरों का लाभ लेते हुए लंबा प्रयास कर सकते हैं। आप किसी बुरे सपने के कारण दिन भर परेशान रहेंगे।

  • *मुन्ना: अगर मां के चरणों में 'जन्नत' होती है तो

    नानी के चरणों में क्या होती है?

    सर्किट: सिंपल है भाई, नानी के चरणों में

    'जन्नत-2' होती है.

    सर्किट: भाई अब मोहल्ले के सारे लड़के इसको लाइन मारेंगे

    मुन्नाभाई: तू फिक्र मत कर, इसका नाम 'दीदी' रखेंगे

    *मुन्ना: ये चांद पर पहला कदम किसने रखा?

    सर्किट: नील आर्मस्ट्रॉन्ग ने

    मुन्ना: तो दूसरा कदम कसने रखा ?

    सर्किट:  क्या भाई!

    दूसरा भी तो उसी ने रखा होगा न

    वो लंगड़ा थोड़ी न था!

    * प्रिंसिपल: अगर कोई लड़का लड़कियों के हॉस्टल में गया तो पहली बार 100 रुपये, दूसरी बार 200 रुपये और तीसरी बार 500 रुपये फाइन लगेगा

    मुन्नाभाई: मंथली पास का कितना लगेगा मामू?

    * सर्किट: भाई, बापू ने बोला था कि कभी झूठ नहीं बोलने मांगता है। अपुन आज से कभी झूठ नहीं बोलेगा

    मुन्नाभाई: ऐ सर्किट, वो सुनीता का बाप आया है, तेरे को ढूंढ़ रहा है

    सर्किट: भाई उसको बोलो अपुन गांव गया है, खेती करने को

    मुन्नाभाई: पर सर्किट, अभी तो तू बोला कभी झूठ नहीं बोलेगा

    सर्किट: भाई, अपुन झूठ नहीं बोलेगा पर तुम तो बोल सकता है ना!